logo

छत्तीसगढ़ राज्य के ग्रामीण अंचलों में गोचर भूमि के अतिक्रमण होने के कारण पशुधन को हरा चारा उपलब्ध नही हो पाता है, जिसके फलस्वरूप पशुओं द्वारा फसलों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। इस गंभीर समस्या से किसानों को हो रहे नुकसान से बचाने एवं पशुधन को हरा चारा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा सुराजी गांव योजना अन्तर्गत नरवा, गरूवा, घुरवा एवं बाड़ी योजना संचालित की जा रही है। योजना अन्तर्गत गौठान निर्माण किया जा रहा है, जिसके परिसर में अथवा उससे लगी हुई राजस्व भूमि आरक्षित कर चारागाह का निर्माण भी किया जा रहा है। चारागाह हेतु आरक्षित भूमि को संरक्षित करने हेतु तार/बाड़ा फेंसिंग कर सिंचाई की सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है, जिसके.....

और पढ़े